छत्तीसगढ़राज्य

कैनवास पर जीवंत रेखांकन देखना सुकून देगा, फेसबुक लाइव 13-14 जून को

रायपुर
महाकोशल कला परिषद व्दारा देश के प्रतिष्ठित कलाकार स्व. कल्याण प्रसाद शर्मा की यादें -2020 एकल कला प्रदर्शनी का उद्घाटन कल शनिवार को सुबह महाकोशल कला वीथिका एवं महाकोशल कला परिषद के फेसबुक पेज पर किया जाएगा। इस प्रदर्शनी में 1943 से 1987 तक के 6 दशकों के चित्र व रेखांकन जो जीवन के आसपास को अपने अंतस में समेटते छत्तीसगढ़ की कला की नई पहचान देते हैं प्रदर्शित किए गए हैं।

चारकोल, पेंसिल से जीवन के विभिन्न रूपों को लयात्मक रेखाओं से साकार करती अलग-अलग विषय की अभिव्यंजना कैनवास पर कल्याण प्रसाद शर्मा ने जीवंत किया है। यह प्रदर्शनी 14 जून तक महाकोशल कला वीथिका एवं महाकोशल कला परिषद के फेसबुक पेज पर में रोजाना अवलोकनार्थ 6 बजे से रात 10 बजे तक देखी जा सकती है। 50 चित्रों व रेखांकन की इस प्रदर्शनी में चाँद को निहारती माँ, धान पीसती नायिका, वीणा बजाती अभिसारिका, केशकर्तन करता नायक, लालबहादुर शास्त्री का व्यक्ति चित्र, धर के आँगन पर इंतजार करती प्रेयसी, गपशप करती दो नवयौवनाएँ, गाँव का पनघट, धान की बोआई करती ग्रामीण बालाएँ, गन्ना बेचती महिलाएँ, माँ और शिशु का वात्सल्य, घोड़े की हिनहिनाहट, नृत्य करती ललनाएँ, केश विन्यास करती नायिका, हाथी, गाय, गाँव का चौपाल, सितार बजाता नायक, भावविभोर नायिका आदि विषयों की अभिव्यक्ति करते चित्र इस प्रदर्शनी में प्रदर्शित हैं। अनेक पुरस्कारों से पुरस्कृत कल्याण प्रसाद शर्मा की रायपुर में 88वीं कला प्रदर्शनी है। आयोजन संयोजक अवतार सिंह ने बताया कि यह आयोजन स्व. कल्याण प्रसाद शर्मा की पुण्य तिथि के अवसर पर आयोजित की गई है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close