छत्तीसगढ़राज्य

11 मजदूरों पर गिरा आकाशीय बिजली, 5 की मौत

महासमुंद
खेत में रोपाई करने के लिए ग्राम घाटकछार की 11 मजदूर गए हुए थे कि अचानक ही उन पर आकाशीय बिजली गिर गई और घटनास्थल पर 5 महिलाओं की मौत हो गई। वहीं 6 महिलाएं पूरी तरह से झुलस गई है जिनका इलाज सराईपाली जिला अस्पताल में चल रहा है। घटना के बाद से गांव पूरी तरह से शोक में डूबा हुआ है। घटना दोपहर के 2 बजे की बताई जा रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतक के परिजनों को तत्काल 4-4 लाख रुपये की सहायत राशि स्वीकृत करने के निर्देश दिए।

मौसम साफ होने के कारण ग्राम घाटकछार की 11 महिलाएं अपने-अपने खेत में रोपा लगाने के लिए सुबह से गई हुई थी कि अचानक ही मौसम ने करवट बदला और तेज बारिश शुरू हो गई। सभी खेत के पास स्थित पेड़ के सामने बारिश रुकने का इंतजार कर रहे थे कि अचानक ही आकाशीय बिजली पेड़ में गिर पड़ा और घटना स्थल पर ही कुमारी जानकी, कुमारी लक्ष्मी यादव, श्रीमती बसंती नाग, श्रीमती जमोवती, श्रीमती नोहरमति की मृत्यु हो गई। वहीं दूसरी जगह बारिश के कारण रुके मजदूरों ने सभी को सराईपाली अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने 5 महिलाओं को मृत घोषित कर दिया। वहीं श्रीमती पंकजनी यादव, श्रीमती पार्वती मालिक, श्रीमती तपस्वनी, श्रीमती पुन्नी, श्रीमती गीतांजलि, श्रीमती शशि मुझी को भर्ती कर उनका शुरू किया लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि उनकी भी हालत गंभीर बनी हुई है।

इस संबंध मे सिंघोड़ा थाना प्रभारी केशव कोसले ने बताया है कि ग्राम घाटकछार में आसमान से बिजली गिरने से 5 लोगों की मौत हो चुकी है, बाकी छह लोग घायल हैं। वहीं दूसरी ओर माधोपाली में मवेशी चरा रहे चरवाहे की भी गाज गिरने से मौत हो गई।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महासमुंद जिले में आकाशीय बिजली गिरने की घटना में 05 श्रमिकों की मृत्यु पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने घटना में घायल 06 श्रमिकों को बेहतर इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कलेक्टर को निर्देश दिए हैं। बघेल ने हादसे में मृत प्रत्येक श्रमिक के परिजनों को आर.बी.सी. 6-4 के प्रावधानों के अनुरूप 04-04 लाख रुपए की सहायता राशि स्वीकृत करने के भी निर्देश दिए हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close